HomeUttar Pradeshसेंट्रल जेल में अब नए अधीक्षक की तैनाती 

सेंट्रल जेल में अब नए अधीक्षक की तैनाती 

बरेली। डीजी जेल ने इस पद पर अविनाश गौतम की तैनाती कर दी। अब विजय राय जेलर के अपने मूल पद पर काम करेंगे। इस बीच जेल प्रशासन ने वीडियो की पुष्टि के लिए पुलिस से मेटा की रिपोर्ट मांगी है। साथ ही आसिफ खान के वीडियो के साथ जेल की सीसीटीवी फुटेज को भी जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेज दिया है।

सेंट्रल जेल में बंद शूटर आसिफ खान के मोबाइल फोन पर वीडियो शूट कर सोशल मीडिया पर शेयर करने के मामले में तीन वार्डर को सस्पेंड किया जा चुका है। इसके साथ एक डिप्टी जेल को मुख्यालय से संबद्ध कर दो दो जेलरों से स्पष्टीकरण मांगा गया है। शनिवार को डीआईजी जेल कुंतल किशोर की जांच में तो कोई नया तथ्य नहीं मिला लेकिन विजय राय से वरिष्ठ जेल अधीक्षक पद छिन गया। यह पद काफी समय से खाली था जिस पर जेलर विजय राय कार्यवाहक तौर पर तैनात थे। शनिवार को इस पद पर अविनाश गौतम की तैनाती कर दी गई।

सेंट्रल जेल में जांच कर रहे डीआईजी का सबसे ज्यादा जोर उस मोबाइल फोन की बरामदगी पर है, जिस पर आसिफ खान ने वीडियो शूट किया था लेकिन अब तक उसके बारे में कुछ पता नहीं लग पाया है। डीआईजी की ओर से शनिवार को पुलिस से मेटा की रिपोर्ट मांगी गई है ताकि पता लगाया जा सके कि शूटर आसिफ खान ने वीडियो कहां, किस समय और किस मोबाइल फोन से बनाया गया था। उम्मीद जताई जा रही है कि मेटा की रिपोर्ट से यह भी पता लगाया जा सकेगा कि वीडियो जिस वक्त बना, उस दौरान आसिफ की बैरक के आसपास किसकी ड्यूटी थी। इस बीच डीआईजी ने शनिवार को भी कई बंदियों और जेल कर्मचारियों के बयान दर्ज किए हैं। आसिफ खान को हाई सिक्योरिटी बैरक में शिफ्ट कर दिया गया है।

जेल की निगरानी और बेहतर ढंग से करने के लिए लंबे समय से खाली अधीक्षक पद पर मुख्यालय से अविनाश गौतम की तैनाती कर दी गई है। मोबाइल फोन बरामद करने की कोशिश लगातार जारी है। वीडियो की सटीक जानकारी के लिए पुलिस से मेटा की रिपोर्ट मांगी है। – कुंतल किशोर, डीआईजी जेल

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments