HomeUttar Pradeshलू के थपेड़ों से जनजीवन अस्तव्यस्त.. पांच दिन राहत नहीं, कोच में...

लू के थपेड़ों से जनजीवन अस्तव्यस्त.. पांच दिन राहत नहीं, कोच में चढ़ते ही गश खाकर गिरा यात्री की मौत।

 

भास्कर टुडे

उत्तर प्रदेश/मुरादाबाद

  • मुरादाबाद में लू के थपेड़े लगातार जारी है। इसके साथ ही जिले का तापमान 44 डिग्री सेल्सियस के करीब चल रहा है। 
  • मौसम विभाग के मुताबिक 19 जून को हल्की बारिश हो सकती है। 
  • दूसरी तरफ गश खाकर रेलवे स्टेशन पर यात्री की मौत हो गई।

 

मुरादाबाद में गर्मी की तपिश जारी है। शुक्रवार सुबह से ही लू के थपेड़े जारी है। तापमान 44 डिग्री सेल्सियस से नीचे नहीं गिर रहा है। बृहस्पतिवार को भी अधिकतम तापमान इतना ही दर्ज किया गया। गर्मी के साथ लू के थपेड़ों से जनजीवन अस्त व्यस्त है।

मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार चार दिन तक भीषण गर्मी रहने की आशंका है। 19 जून को मामूली बारिश के आसार बन रहे हैं, लेकिन तापमान में गिरावट होती दिखाई नहीं दे रही।

बृहस्पतिवार को न्यूनतम तापमान भी 30.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जोकि सामान्य से 2.7 डिग्री अधिक है।

न्यूनतम तापमान के कम होने से लोग रात में भी गर्मी से परेशान रहते हैं।

हालांकि हवाओं की वजह से बीच बीच में थोड़ी राहत महसूस होती है।

बृहस्पतिवार को हवा में नमी 21 प्रतिशत रही।गर्मी का असर अस्पतालों की ओपीडी में साफ देखा जा सकता है।

पंतनगर विश्वविद्यालय के मौसम वैज्ञानिक डॉ. आरके सिंह ने बताया कि आने वाले चार-पांच दिन में गर्मी से राहत मिलने की संभावना नहीं है।

19 जून को हल्की फुल्की बारिश हो सकती है लेकिन इससे तापमान पर असर नहीं पड़ेगा। वहीं स्वास्थ्य विभाग ने लू से बचाव के लिए एडवाइजरी जारी की है।

यात्री की मौत .

मुरादाबाद रेलवे स्टेशन पर एक यात्री की मौत हो गई। 62 वर्षीय शरफुल इस्लाम मुरादाबाद में कबाड़ी का काम करते थे।

मीडिया जानकारी के मुताबिक वह अपने साथियों संग पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जाने के लिए स्टेशन पर पहुंचे थे। दुर्गियाना एक्सप्रेस के स्लीपर कोच में उनका रिजर्वेशन था।उनके साथ काम करने वाले लोगों ने बताया कि शरफुल बिल्कुल ठीक थे।

थोड़ी देर पहले ही उन्होंने सबके साथ खाना खाया था। ट्रेन स्टेशन पर पहुंची तो सब अपने कोच में चढ़ने लगे।

शरफुल अपनी सीट पर पहुंचने से पहले ही कोच में बेहोश होकर गिर पड़े।लोगों ने मुंह पर पानी के छींटे मारे लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। थोड़ी देर बात रेलवे के डॉक्टर मौके पर पहुंचे। उन्होंने नब्ज न पाकर अस्पताल ले जाने को कहा।

 

अस्पताल में डॉक्टरों ने यात्री को मृत घोषित कर दिया। मौत का कारण जानने के लिए जीआरपी ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments