HomeInternationalलंदन में भारत के नीति आयोग की पूर्व कर्मचारी की सड़क हादसे...

लंदन में भारत के नीति आयोग की पूर्व कर्मचारी की सड़क हादसे में मौत

लंदन। प्रतिष्ठित ‘लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स एंड पॉलिटिकल साइंस’ (एलएसई) से पीएचडी कर रहीं नीति आयोग की एक पूर्व कर्मचारी की यहां सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। चेष्ठा कोचर (33) यहां विश्वविद्यालय से साइकिल से अपने घर लौट रही थीं कि तभी एक ट्रक ने उन्हें टक्कर मार दी। वह पिछले साल हरियाणा के गुरुग्राम से लंदन आने के बाद से शोध कार्य कर रही थीं।

कोचर के पिता ने उनकी मृत्यु की खबर ऑनलाइन माध्यम से साझा की, हालांकि, मेट्रोपोलिटन पुलिस ने नाम की अब तक आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। यह दुर्घटना 19 मार्च की शाम फरींगडन रोड के चौराहे के निकट क्लर्केनवेल रोड पर हुई। पुलिस ने बयान में कहा, ‘‘33 वर्षीय एक महिला गंभीर रूप से घायल पाई गई। आपात सेवाओं की कोशिशों के बावजूद उसकी मौके पर ही मौत हो गई। उसके निकट परिजनों को सूचित कर दिया गया है।” बयान में कहा गया, ‘‘लॉरी को मौके पर रोक लिया गया और उसका चालक पूछताछ में पुलिस के साथ सहयोग कर रहा है। अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है और जांच जारी है।”

नीति आयोग के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ‘‘चेष्ठा कोचर ने नीति आयोग में, मेरे साथ लाइफ (लाइफस्टाइल फॉर द इनवायरोन्मेंट) कार्यक्रम पर काम किया था।” उन्होंने कहा, ‘‘वह एक मेधावी छात्रा थीं। ईश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्री-चरणों में स्थान प्रदान करें।” अपने सॉफ्टवेयर इंजीनियर पति प्रशांत गौतम के साथ लंदन आने से पहले, कोचर ने पिछले साल अप्रैल तक लगभग दो वर्ष भारत की राष्ट्रीय व्यवहार अंतर्दृष्टि इकाई में वरिष्ठ सलाहकार के रूप में कार्य किया था। ‘सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया’ के महानिदेशक एवं मृतका के पिता लेफ्टिनेंट जनरल डॉ एस पी कोचर ने ‘लिंक्डइन’ पर अपने एक भावुक पोस्ट में कहा, ‘‘मैं अभी भी लंदन में अपनी बेटी का शव प्राप्त करने की कोशिश कर रहा हूं। 19 मार्च को एलएसई से साइकिल से लौटते वक्त उसे एक ट्रक ने कुचल दिया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments