HomeBareillyरिचार्ज नही बिजली नही!यूपी में पहले रिचार्ज कराएं, फिर बिजली जलाएं, जुलाई...

रिचार्ज नही बिजली नही!यूपी में पहले रिचार्ज कराएं, फिर बिजली जलाएं, जुलाई से लगेंगे 4G प्रीपेड स्मार्ट मीटर।

 

 

भास्कर टुडे

  • बिजली चोरी रोकने ओवरलोड वाले फीडर, बिजली कटौती और लाइन लॉस की समस्याओं से निपटने के लिए अब बिजली विभाग ने 4G प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाने की कार्रवाई तेज कर दी है। 

 

  • बरेली में सर्वे पूरा हो गया है।

 

उत्तर प्रदेश/बरेली। बिजली चोरी रोकने ओवरलोड वाले फीडर, बिजली कटौती और लाइन लॉस की समस्याओं से निपटने के लिए अब बिजली विभाग ने 4G प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाने की कार्रवाई तेज कर दी है।

बरेली में सर्वे पूरा हो गया है। जुलाई से सर्वाधिक लोड वाले फीडरों पर जियो टैगिंग कर 4G प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाने की कार्रवाई शुरू हो जाएगी।

सांकेतिक छवि

2024 में 4.50 लाख स्मार्ट मीटर लगाने का है लक्ष्य..

प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाने के लिए अप्रैल में सर्वे शुरू हुआ था। सर्वे पूरा हो गया है। दिसंबर 2024 तक 4:50 लाख स्मार्ट मीटर लगाने का लक्ष्य है।

शहर में स्मार्ट मीटर लगने के बाद सेकंड फेज में देहात क्षेत्र में स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे। इसको लेकर कवायद शुरू हो गई है।

दो से तीन करोड़ यूनिट ज्यादा हो रही बिजली की खपत.

मई, जून के सीजन में बिजली की अतिरिक्त खपत दो से तीन करोड़ यूनिट तक पहुंच रही है।

शहर में ढाई लाख घरेलू और व्यावसायिक उपभोक्ता हैं। 

पिछले साल पोस्टपेड स्मार्ट मीटर लगाने का काम शुरू किया गया था। 57000 उपभोक्ताओं के यहां यह मीटर लगा दिए गए, लेकिन इनको लेकर शिकायतों की भरमार थी।

इसकी वजह से स्मार्ट मीटर लगाने का काम रोक दिया गया था। अब विद्युत निगम ने 4G प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाने का निर्णय लिया है।

शहर में 1.40 लाख और देहात में 3.10 लाख स्मार्ट मीटर लगाने का टारगेट है। 

मीटर लगाने के लिए सर्वे फीडरो की जियो टैगिंग का काम पूरा कर रिपोर्ट मध्यांचल विद्युत वितरण निगम को भेज दी गई है।

पहले से लगे पोस्टपेड स्मार्ट मीटर हटाए जाएंगे.

अधीक्षण अभियंता नोडल अफसर बरेली विद्युत निगम अशोक चौरसिया ने बताया कि शहरी क्षेत्र में जिन उपभोक्ताओं के घर या प्रतिष्ठानों पर पहले से पोस्टपेड स्मार्ट मीटर लगे हैं। उनको हटाकर प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे।

बिजली बिलों में गड़बड़ी, मीटर जंप, बिल जमा करने के बाद भी आपूर्ति, कट होने को लेकर पोस्टपेड स्मार्ट मीटर की शिकायतों की भरमार रहती है। इस वजह से अब जिले में 4:50 लाख 4G प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाए जा रहे हैं। जुलाई से प्रीपेड मीटर लगाने का काम शुरू हो जाएगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments