HomeBareillyबरेली समेत उत्तर प्रदेश के कई जिलों में राहत की बारिश, तेज़...

बरेली समेत उत्तर प्रदेश के कई जिलों में राहत की बारिश, तेज़ हवाओं के साथ मेघ बरसे, तापमान में गिरावट।

 

भास्कर टुडे

  • राहत की बारिश से उत्तर प्रदेश के कई जिले भीगे, उमस से मिली राहत, तापमान भी गिरा।
  • कानपुर 45.1 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे गर्म शहर रहा है. 
  • आगरा में 45 डिग्री, औरई में 44.6 डिग्री, बस्ती में 44 डिग्री, हमीरपुर में 44.2 डिग्री और लखनऊ में 43.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया है.
  •  गोरखपुर से लखनऊ तक अगले 24 घंटों में मौसम में बदलाव का असर दिख सकता है.
  • मानसून उत्तर प्रदेश में 24 या 25 जून को एंट्री कर सकता है. 

 

उत्तर प्रदेश/लखनऊ।  उत्तर प्रदेश में भीषण गर्मी से लोगों को राहत मिलना शुरू हो गया है.

बुधवार को लखनऊ-गोरखपुर समेत कई जगहों पर बारिश और तेज आंधी आने से मौसम सुहाना हो गया है।बादलों की आवाजाही भी रही. उत्तर प्रदेश के बलिया और गोरखपुर के रास्ते मानसून दस्तक दे सकता है।

मौसम विभाग ने आगामी तीन दिनों तक बारिश और आंधी-तूफान के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है।

लू को लेकर 22 जिलों के लिए 20 जून तक रेड अलर्ट है. 20 जून के मौसम की बात करें तो मौसम विभाग ने पूरे उत्तर प्रदेश में तेज हवाएं चलने की संभावना है।

यूपी के कई जिलों में हो रही रुक-रुककर बारिश

राजधानी लखनऊ में बुधवार देर रात कई इलाकों में बूंदाबांदी हुई. हालांकि, इससे कुछ खास राहत नहीं मिली है।आसमान में काले बादल छाए हुए है।

वहीं, बहराइच में करीब एक घंटे तक मूसलाधार बारिश हुई है. इसी तरह श्रावस्ती के कई इलाकों में तेज आंधी के साथ बारिश ने तपिश से राहत दी है. बरेली में कई दिन से लगातार प्रचंड गर्मी के बाद बुधवार रात करीब 10 बजे बारिश होने से लोगों को राहत मिली. जबकि गोरखपुर में देर रात रुक-रुककर बारिश हो रही है।

कानपुर 45.1 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे गर्म शहर

मौसम विभाग के वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह ने बताया कि 20 जून को पश्चिमी एवं पूर्वी यूपी में कहीं-कहीं बारिश और गरज चमक के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

इस दौरान कुछ जगहों पर भीषण लू और कहीं कहीं पर बादल गरजने और बिजली गिरने के साथ ही 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तेज झोंकेदार हवा चलने की आसार हैं.

आगरा में 45 डिग्री, औरई में 44.6 डिग्री, बस्ती में 44 डिग्री, हमीरपुर में 44.2 डिग्री और लखनऊ में 43.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया है.

गोरखपुर से लखनऊ तक अगले 24 घंटों में मौसम में बदलाव का असर दिख सकता है.

उन्होंने ने बताया कि आगामी 24 घंटों के दौरान तापमान में और गिरावट के परिणामस्वरूप प्रदेश में लू के क्षेत्रफल में और कमी आने से इसके प्रदेश के कुछ स्थानों (26-50%) स्टेशन तक सीमित हो जाने की संभावना है।

इसके बाद 21 जून से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में तापमान में आ रही गिरावट थम जाने और इसमें आंशिक वृद्धि के फलस्वरूप पश्चिमी उत्तर प्रदेश में इसके आगामी 23 जून तक बिना किसी विशेष परिवर्तन के जारी रहने की संभावना है।

जबकि वहीं पूर्वी यूपी में तापमान में आ रही गिरावट 21 जून के बाद भी जारी रहने से 22 जून के बाद यहां लू से निजात मिलने की संभावना है. यूपी के कई हिस्से ऐसे हैं जहां अभी भी लू सक्रिय रहेगी.

मौसम वैज्ञानिक अतुल कुमार सिंह के अनुसार अगले 48 घंटों के दौरान बिहार एवं झारखंड में आगे बढ़ने के बाद ही मॉनसून के उत्तर प्रदेश में आने के संबंध में स्थिति स्पष्ट होगी.

यूपी के किसानों को बड़ी सलाह।

कृषि विशेषज्ञों ने किसानों को सलाह दी है कि 1 जून से 17 जून 2024 तक, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में केवल 2 मिमी बारिश हुई है, जो सामान्य से 92 फीसदी कम है।

वहीं पूर्वी उत्तर प्रदेश में 6 मिमी बारिश हुई है, जो सामान्य से 83 फीसदी कम है.

अगले दो सप्ताह के मौसम पूर्वानुमान के अनुसार, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सामान्य से कम और पूर्वी उत्तर प्रदेश में सामान्य से अधिक वर्षा की संभावना है।

संस्थान ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसानों को सलाह दी है कि कम अवधि वाली धान की किस्मों की बुवाई करें और जल्दी बोई गई अरहर की फसल में सिंचाई और निराई-गुड़ाई करें.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments