HomeBareillyबरेली में तीन साल की बच्ची पर कुत्तों ने किया हमला, कई...

बरेली में तीन साल की बच्ची पर कुत्तों ने किया हमला, कई जगह नोचा… शरीर पर गहरे घाव।

भास्कर टुडे 

बरेली ; बरेली में भीषण गर्मी के कारण आवारा कुत्ते आक्रामक हो रहे हैं। इससे कुत्तों के हमलों की घटनाएं बढ़ गई हैं।

भीषण गर्मी से आक्रामक हो रहे है कुत्ते.

शीशगढ़ इलाके में आवारा कुत्तों ने तीन साल की बच्ची पर हमला कर दिया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गई।

बरेली के थाना शीशगढ़ क्षेत्र के गांव बंजरिया में तीन साल की बच्ची जैनब पर आवारा कुत्तों ने हमला कर दिया। गंभीर घायल बच्ची को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

उसके शरीर पर गहरे जख्म हुए हैं। बच्ची की मां अरसिया ने बताया कि उनकी बेटी जैनब को उसके चाचा ने टॉफी लेने के लिए रुपये दिए थे।

शुक्रवार शाम जैनब टॉफी लेने के लिए परचून की दुकान पर जा रही थी। घर से कुछ ही दूरी पर रास्ते में अचानक आवारा कुत्तों ने बच्ची पर हमला कर दिया। बच्ची की चीख सुनकर आसपास मौजूद लोगों ने उसे कुत्तों से छुड़ाया। उसके चेहरे और जांघ पर गहरे घाव हो गए। इसकी जानकारी परिवार के लोगों को लगी तो वह उसे लेकर तत्काल जिला अस्पताल चले आए। यहां मासूम जैनब का उपचार चल रहा है।

भोजीपुरा में भी हो चुकी है घटना .

12 अप्रैल को भोजीपुरा क्षेत्र में आवारा कुत्तों के झुंड ने दो साल के मासूम वंश पर हमला कर दिया था। उसकी मां पूजा ने बताया कि वह लोग खेत पर गेहूं काटने गए थे।

वंश भी उनके साथ गया था। वह खेत पर ही खेल रहा था। तभी खेत से कुत्तों का झुंड आया और मासूम पर हमला कर दिया।शरीर पर कई जगह कुत्तों ने बुरी तरह काटा और उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया था। उसका कई दिन उपचार चल रहा था।

रोज 300 लोगों को काट रहे कुत्ते .

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार जिले में रोज तीन सौ लोगों को कुत्ते काट रहे हैं। लिहाजा, एंटी रैबीज वैक्सीन लगवाने वालों की ओपीडी में कतार लग रही है।विभागीय आंकड़ों के अनुसार बीते वर्ष जनवरी में 6,931 लोगों को कुत्तों ने काटा था। यह आंकड़ा जनवरी 2024 में 9,624 जा पहुंचा। गर्मी बढ़ने के साथ अब फिर से कुत्ते आक्रामक होने लगे हैं।

वर्ष 2023 में एआरवी के आंकड़े

माह – रैबीज टीकाकरण

जून – 6931

जुलाई – 6008

अगस्त – 4625

सितंबर – 6412

अक्तूबर – 6017

नवंबर – 7029

दिसंबर – 8972

शहर में 30 हजार से अधिक आवारा कुत्ते.

शहर के 80 वार्डों में 30 हजार से अधिक आवारा कुत्ते हैं। नगर निगम के पास कुत्तों को पकड़ने और उनको बधिया करने का सिस्टम है लेकिन संख्या के हिसाब से ये इंतजाम नाकाफी हैं।

 

लोगों के पास एंटी रैबीज वैक्सीन लगवाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। नगर निगम की बोर्ड बैठक में कई बार यह मुद्दा उठ चुका है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments